Sunday, February 25, 2024
होमताज़ातरीन"सिसोदिया को 'शिन्दे' बनाने की बीजेपी की थी कोशिश, ऑपरेशन लोटस रहा...

“सिसोदिया को ‘शिन्दे’ बनाने की बीजेपी की थी कोशिश, ऑपरेशन लोटस रहा नाकाम” : ‘आप’ का आरोप

दिल्ली में शराब नीति पर आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है. ‘आप’ नेता और सांसद संजय सिंह ने बुद्धवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि हम मोदी सरकार को बेनकाब करेंगे कि वो दिल्ली सरकार को गिराने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कैसे कर रहे हैं. केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर दिल्ली सरकार को गिराने की बीजेपी की कोशिश का पर्दाफाश करेंगे.
संजय सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आरोप लगाया कि दिल्ली के विधायकों को तोड़ने की कोशिश हुई. बीजेपी ने मनीष सिसोदिया पर ‘शिंदे’ वाली कोशिश की, लेकिन उसकी कोशिश नाकाम हुई. बीजेपी ने हमारे विधायकों को धमकाया और कहा कि 20 करोड़ रुपये का हमारा प्रस्ताव स्वीकार करो या फिर सिसोदिया की तरह सीबीआई और ईडी के मामलों का सामना करो. बीजेपी ने 20-25 विधायकों के संपर्क में होने का दावा किया है. वो दिल्ली के शिक्षा मॉडल के बारे में चिंतित हैं. वो देश को बेचना चाहते हैं. केजरीवाल देश को बचाना चाहते हैं. सावधान रहना, ये दिल्ली है. यहां आम आदमी पार्टी की सरकार है, और बिकने वाली नहीं है.
प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती ने कहा कि सत्ता और बल के आधार पर प्रजातंत्र का चीरहरण हो रहा है. मेरे एक परिचित बीजेपी नेता ने मुझे खरीदने की कोशिश की. सोमनाथ ने कहा कि हमारे हो जाओ या मनीष सिसोदिया की तरह दुर्गति करेंगे. बीजेपी नेता ने कहा कि 20 करोड़ रुपए तैयार हैं, राजी हो जाओगे तो पहुंच जाएगा, और विधायक लाओगे तो रेट 25 करोड़ हो जाएगा.
इसी तरह का आरोप ‘आप’ विधायक संजीव झा, अजय दत्त और कुलदीप कुमार ने भी कुछ इसी तरह के गंभीर आरोप लगाए. इन्होंने भी बीजेपी के के बड़े नेताओं के उनसे सम्पर्क किया था और कहा था कि दिल्ली से आम आदमी पार्टी ख़त्म होने वाली है. उन्हें भी 20 करोड़ रुपए का ऑफर दिया गया और विधायक तोड़कर लाने के लिए 25 करोड़ रुपए देने का लालच दिया गया. उनको भी बीजेपी नेता ने धमकाते हुए कहा कि अगर वो ऐसा नहीं करते हैं तो सीबीआई और ED वाले परेशान करेंगे. लेकिन आम आदमी पार्टी आंदोलन से निकली पार्टी है, हम टूटने वाले नहीं है. हम अरविंद केजरीवाल और पार्टी से गद्दारी नहीं करेंगे.

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments