Sunday, February 25, 2024
होमखेलविराट को हटाने की साजिश करने वाले आज किस हाल को पहुंच...

विराट को हटाने की साजिश करने वाले आज किस हाल को पहुंच गए

So… Lekhanbaji

बीसीसीआई ने टीम इंडिया की सिलेक्शन कमिटी को बर्खास्त कर दिया है। वही कमिटी जिसने विराट को पहले कप्तानी से हटाया और अब युवा टीम बनाने की बात कहकर किंग को टीम से निकालने की फिराक में थी। सिलेक्शन कमिटी के हेड वही चेतन शर्मा थे, जिन्होंने विराट को T-20 इंटरनेशनल की कप्तानी छोड़ने के बाद वनडे कप्तानी से हटाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। ऐसा करके किंग के करोड़ों चाहने वालों की आंखें आंसुओं से भिगाई थीं। पर कहावत पुरानी है कि भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं. .!

पूरा मामला विस्तार से समझिए। इस सिलेक्शन कमिटी में चेतन शर्मा के अलावा हरविंदर सिंह, देवाशीष मोहंती और सुनील जोशी शामिल थे। किसी भी चयनकर्ता का कार्यकाल 4 वर्षों का होता है। इन चारों को जिम्मेदारी 2020 और 2021 में दी गई थी। ऐसे में 2024 तक तो इनमें से किसी को भी नहीं हटाया जाना चाहिए था। पर इन्हीं लोगों को लगा था कि 5 आईपीएल ट्रॉफी जीतने वाला कप्तान लाकर किंग को हटा देंगे तो किस्मत बदल जाएगी। आईसीसी ट्रॉफी आसानी से इंडिया आएगी। जब हिंदुस्तान 2022 T-20 वर्ल्ड कप में बुरी तरह सेमी फाइनल हार गया, तो गाज तो गिरनी ही थी।

सबसे पहले बीसीसीआई के तत्कालीन अध्यक्ष सौरव गांगुली की छुट्टी हुई थी, जिन्होंने कहा था कि उनके लाख समझाने के बावजूद विराट T-20 कप्तानी करने के लिए नहीं माने और इसलिए उन्हें वनडे कप्तानी से भी हटाना पड़ा। जबकि किंग ने बयान दिया था कि उनके T-20 कप्तानी छोड़ने के बाद बीसीसीआई और चयनकर्ताओं ने उन्हें एक दफा भी कप्तानी करते रहने के लिए नहीं कहा था। जिस तरह दबाव डालकर विराट को T-20 के बाद टेस्ट की कप्तानी छोड़ने पर मजबूर किया गया, उसका दर्द करोड़ों क्रिकेट फैंस की आंखों में आज भी ताजा है। यह सोचना भी समझ से परे था कि भारत के लिए तीनों फॉर्मेट में सर्वाधिक मुकाबले जीतने वाले कप्तान के साथ ऐसा किया जाएगा। आईसीसी टूर्नामेंट्स में टीम के शर्मनाक प्रदर्शन का ठीकरा उसके सर फोड़ विराट को कप्तानी से हटा दिया जाएगा।

उम्मीद है कि जो नई सिलेक्शन कमिटी आएगी, वह भारतीय टीम के मौजूदा हालात को बेहतर तरीके से समझेगी। उसे पता होगा कि अगर कोई आईपीएल जीत जाता है तो जरूरी नहीं है कि वह बहुत शानदार कप्तान है। हर दफा मुश्किल परिस्थिति में धमाकेदार पारी खेलकर टीम इंडिया की नैया पार लगाने वाला विराट करोड़ों क्रिकेट फैंस की जान है। अगर आने वाले समय में वर्ल्ड कप जीतना है तो आईपीएल को टीम चयन का पैमाना नहीं बनाना होगा। घरेलू क्रिकेट में बढ़िया प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों को मौका देकर टीम इंडिया का हिस्सा बनाना होगा। जो विराट को हटाने की साजिश कर रहे थे, वे आज खुद जा रहे हैं। यह देख कर किंग के करोड़ों फैंस खुशियां मना रहे हैं।

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments