Monday, December 11, 2023
होमचुनावराज्य सभा चुनाव : कांग्रेस ने दस और बीजेपी के उतारे 18...

राज्य सभा चुनाव : कांग्रेस ने दस और बीजेपी के उतारे 18 उम्मीदवार 

 

अंज़रुल बारी

 

दस जून को होने वाले राज्य सभा चुनाव के लिए कांग्रेस और बीजेपी ने अपने सभी उम्मीदवारों की सूचि जारी कर दी है. बीजेपी की सूचि में 18 उम्मीदवार मैदान में उतारे गए हैं जबकि कांग्रेस ने 10 उम्मीदवारों को मैदान में उतारकर पार्टी के भीतर चल रहे खेल को साधने की कोशिश की है.

बीजेपी ने 18 उम्मीदवारों की घोषणा की, जिसमें केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और निर्मला सीतारमण को क्रमश: महाराष्ट्र और कर्नाटक से उम्मीदवार बनाया गया है. 16 उम्मीदवारों में से सात उत्तर प्रदेश के हैं. वहीं, कांग्रेस ने अपने 10 उम्मीदवारों की सूची जारी की. हरियाणा से अजय माकन, राजस्थान से रणदीप सिंह सुरजेवाला, तमिलनाडु से पी चिदंबरम को मैदान में उतारा है.

बीजेपी के पूर्व विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल, जिन्होंने हाल ही में विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए अपने गोरखपुर शहरी क्षेत्र को छोड़ दिया था, उम्मीदवारों में शामिल थे. उत्तर प्रदेश से, पार्टी ने पूर्व राज्य इकाई के प्रमुख लक्ष्मीकांत वाजपेयी, मौजूदा राज्यसभा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर और यूपी पिछड़ा वर्ग वित्त और विकास निगम के अध्यक्ष बाबुराम निषाद को भी मैदान में उतारा है. पार्टी ने राज्य से दो महिलाओं दर्शन सिंह और संगीता यादव को मैदान में उतारा है. सिंह पार्टी की महिला विंग की पूर्व राज्य प्रमुख हैं, जबकि यादव गोरखपुर के चौरी चौरा से पार्टी के पूर्व विधायक हैं. जबकि बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और पार्टी प्रवक्ता जफर इस्लाम का टिकट काट दिया है.

बीजेपी ने कर्नाटक, महाराष्ट्र और बिहार से दो-दो उम्मीदवारों और मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड और हरियाणा से एक-एक उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और विनय सहस्रबुद्धे जिनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है, बीजेपी के उम्मीदवारों की सूची में शामिल नहीं हो सके हैं. हरियाणा से राज्यसभा सदस्य रहे बीजेपी महासचिव दुष्यंत गौतम का नाम भी उम्मीदवारों की पहली सूची से गायब था. पार्टी ने हरियाणा से पूर्व विधायक कृष्ण लाल पंवार को टिकट दिया है.

मध्य प्रदेश से कविता पाटीदार, राजस्थान से घनश्याम तिवारी और उत्तराखंड से कल्पना सैनी को बीजेपी ने मैदान में उतारा है. बिहार से पार्टी ने सतीश चंद्र दुबे और शंभू शरण पटेल को मैदान में उतारा है. बीजेपी की विज्ञप्ति के अनुसार, केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री गोयल और अनिल सुखदेवराव बोंडे को महाराष्ट्र से उम्मीदवार बनाया गया है. केंद्रीय वित्त मंत्री सीतारमण और अभिनेता से नेता बने जग्गेश कर्नाटक से पार्टी के उम्मीदवार होंगे.

वहीं, कांग्रेस ने रविवार को 10 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए 10 उम्मीदवारों की घोषणा की, जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम, जयराम रमेश और अजय माकन के साथ-साथ पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को मैदान में उतारा गया. चिदंबरम को तमिलनाडु से, रमेश को कर्नाटक से, माकन को हरियाणा से और सुरजेवाला को राजस्थान से उम्मीदवार बनाया गया है. पार्टी ने राजस्थान से मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी, मध्य प्रदेश से विवेक तन्खा, छत्तीसगढ़ से राजीव शुक्ला और रंजीत रंजन और महाराष्ट्र से इमरान प्रतापगढ़ी को भी मैदान में उतारा है.

बता दें कि अगले दो महीनों में राज्यसभा में होने वाली 55 रिक्तियों में से कांग्रेस के सात सदस्य – चिदंबरम (महाराष्ट्र), रमेश (कर्नाटक), अंबिका सोनी (पंजाब), विवेक तन्खा (मध्य प्रदेश), प्रदीप टम्टा (उत्तराखंड), कपिल सिब्बल (उत्तर प्रदेश) और छाया वर्मा (छ.ग.) – अपना कार्यकाल पूरा करेंगे. जून से अगस्त के बीच अलग-अलग तारीखों पर सदस्यों के सेवानिवृत्त होने के कारण खाली हुई 15 राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों को भरने के लिए 10 जून को चुनाव होंगे. नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 मई है.

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments