Sunday, February 25, 2024
होमखेलबांग्लादेश ने भारत के जबड़े से छीनी जीत

बांग्लादेश ने भारत के जबड़े से छीनी जीत

शायद बांग्लादेश को कम आंकना भारत लिए महंगा साबित हुआ ।मीरपुर में खेले गए पहले वनडे में बांग्लादेश ने भारत को रोमांचक मुकाबले में 1 विकेट से हरा दिया है और तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। भारत ने पहले खेलते हुए 41.2 ओवर में सिर्फ 186 रन बनाये, जिसके जवाब में बांग्लादेश ने 9 विकेट खोकर 46 ओवर में जीत हासिल कर ली। मेहदी हसन मिराज़ ने मुस्ताफ़िज़ुर रहमान के साथ आखिरी विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी निभाते हुए टीम को शानदार जीत दिला दी। मेहदी हसन मिराज़ (9ओवर में 43 रन देकर 1विकेट हासिल किया और नाबाद 38* रन बनाए) मेहदी हसन के इस प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

टॉस हारकर पहले खेलने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और छठे ओवर में 23 के स्कोर पर शिखर धवन 17 गेंदों में सिर्फ 7 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद कप्तान रोहित शर्मा (31 गेंद 27) और विराट कोहली (15 गेंद 9) ने टीम को संभालने की कोशिश की, लेकिन शाकिब अल हसन ने 11वें ओवर में दोनों को आउट करके भारत को जबरदस्त झटका दिया। श्रेयस अय्यर (39 गेंद 24) ने केएल राहुल के साथ चौथे विकेट के लिए 43 रन जोड़े, लेकिन 20वें ओवर में अय्यर के आउट होने से 92 के स्कोर पर भारत को चौथा झटका लगा।

केएल राहुल ने वॉशिंगटन सुंदर (43 गेंद 19) के साथ पांचवें विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी निभाई और टीम को 150 के पार पहुंचाया। इस दौरान राहुल ने 49 गेंदों में अपना 11वां वनडे अर्धशतक पूरा किया। हालाँकि 152 के स्कोर पर सुंदर के आउट होने के बाद भारत ने चार रनों के अंदर तीन और विकेट गंवा दिए।

शाकिब अल हसन ने सुंदर के अलावा शार्दुल ठाकुर (2) और दीपक चाहर (0) को आउट करके भारत के खिलाफ पहली बार वनडे की एक पारी में पांच विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया।

 

इस दौरान इबादत होसैन ने शाहबाज़ अहमद (0) को भी पवेलियन भेजा।केएल राहुल ने 70 गेंदों में 73 रनों की बेहद उम्दा पारी खेली, लेकिन 40वें ओवर में 178 के स्कोर पर इबादत होसैन ने उन्हें आउट करके भारत को बहुत बड़ा झटका दिया। इसके बाद 42वें ओवर में 186 के स्कोर पर मोहम्मद सिराज भी 9 रन बनाकर आउट हुए और भारतीय टीम 200 रनों के अंदर ऑल आउट हो गई। शाकिब अल हसन ने पांच और इबादत होसैन ने चार विकेट लिए।

जवाब में बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही और पहली ही गेंद पर दीपक चाहर ने नजमुल होसैन शंटो (0) को पवेलियन भेजा। इसके बाद 10वें ओवर में 26 के स्कोर पर मोहम्मद सिराज ने अनामुल हक़ (29 गेंद 14) को चलता किया। यहाँ से लिटन दास (63 गेंद 41) ने शाकिब अल हसन (38 गेंद 29) के साथ तीसरे विकेट के लिए 48 रन जोड़कर टीम को संभाला।20वें ओवर में 74 के स्कोर पर लिटन और 24वें ओवर में 95 के स्कोर पर शाकिब अल हसन आउट हुए। यहाँ से मुशफिकुर रहीम (45 गेंद 18) और महमुदुल्लाह (35 गेंद 14) ने पांचवें विकेट के लिए 33 रनों की धीमी साझेदारी निभाई। हालाँकि 128 के स्कोर पर दोनों बल्लेबाजों के आउट होने से बांग्लादेश को दोहरा झटका लगा।39वें ओवर में 134 के स्कोर पर कुलदीप सेन ने अफीफ होसैन (12 गेंद 6) को आउट करके बांग्लादेश को सातवां झटका दिया और अपना पहला वनडे विकेट लिया। उसी ओवर में 135 के स्कोर पर इबादत होसैन भी खाता खोले बिना हिट विकेट आउट हो गए और बांग्लादेश को आठवां झटका लगा। इसके बाद 40वें ओवर में 136 के स्कोर पर मोहम्मद सिराज ने हसन महमूद (0) को आउट किया और बांग्लादेश का नौवां विकेट गिरा।यहाँ से मेहदी हसन मिराज़ (39 गेंद 38*) ने मुस्ताफ़िज़ुर रहमान (11 गेंद 10*) के साथ 10वें विकेट के लिए 51 रनों की बेहतरीन साझेदारी निभाकर टीम को यादगार जीत दिला दी। मेहदी हसन मिराज़ ने चौका लगाकर टीम को जीत दिलाई और चार ओवर शेष रहते भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा।

भारत की तरफ से मोहम्मद सिराज ने तीन, कुलदीप सेन और वॉशिंगटन सुंदर ने दो-दो और दीपक चाहर एवं शार्दुल ठाकुर ने एक-एक विकेट लिया। हार की सबसे बड़ी वजह खराब बैटिंग और फील्डिंग रही,

दोनों टीमों के बीच सीरीज का दूसरा वनडे 7 दिसंबर को मीरपुर, ढाका में ही खेला जाएगा। उस मैच में बांग्लादेश की नज़रें सीरीज जीत पर होगी, वहीं भारतीय टीम सीरीज में वापसी के इरादे से उतरेगी।

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments