Sunday, February 25, 2024
होमखेलडूब गया फुटबाल का सितारा, महान खिलाड़ी पेले का 82 साल की...

डूब गया फुटबाल का सितारा, महान खिलाड़ी पेले का 82 साल की उम्र में निधन, फुटबाल प्रेमियों में शोक की लहर

ब्राज़ील के महान फ़ुटबाल खिलाड़ी पेले का निधन हो गया है. वो 82 साल के थे. 20 वीं सदी के महान फुटबॉलर पेल को कोलन कैंसर था, वो किडनी और प्रोस्टेट की बीमारियों जूझ रहे थे. और पिछले कुछ दिनों से साओ पाउलो के आइंस्टीन हॉस्पिटल में भर्ती थे. उनके निधन की जानकारी पेले की बेटी कैली नैसीमेंटो ने इंस्टाग्राम के जरिए दी है.

पिछले साल सितम्बर में उनके आंत की सर्जरी हुई थी और एक ट्यूमर निकाला गया था. ये ट्यूमर उनके एक रूटीन टेस्ट में पता चला था. उन्हें इसी साल नवंबर में फिर से अस्पताल में भर्ती किया गया. दोबारा अस्पताल में भर्ती होने के बाद उनकी बेटी केली नैसिमेंटो सोशल मीडिया के जरिए उनके प्रशंसकों को लगातार अपडेट कर रही थीं.

अस्पताल प्रबंधन ने पेले के निधन की पुष्टि करते हुए कहा है, “शरीर के विभिन्न अंगों के काम करना बंद कर देने से उनका निधन हुआ है. यह कोलोन कैंसर का संक्रमण बढ़ने के चलते हुआ.”

21 साल लंबे फुटबॉल करियर के दौरान 1363 मुक़ाबलों में उनके नाम 1,281 गोल करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. वो एकमात्र फ़ुटबॉल खिलाड़ी हैं जिन्होंने तीन बार वर्ल्ड कप जीता. 1958, 1962 और 1970 में वर्ल्ड कप जीतने वाली ब्राज़ीली टीम में वे शामिल रहे. उन्हें साल 2000 में फ़ीफ़ा के प्लेयर ऑफ द सेंचुरी का तमगा दिया गया.

पेले के निधन पर अर्जेंटीना के मशहूर खिलाड़ी लियोनेल मेसी, पुर्तगाल के मायानाज खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ब्राजीलियन खिलाड़ी नेमार समेत दुनिया भर के बड़े खिलाड़ियों ने फुटबाल के इस जादूगर के निधन पर अपना शोक संदेश जारी किया है.

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments