Home खेल पीटी उषा बनेगी भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष !

पीटी उषा बनेगी भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष !

0
पीटी उषा बनेगी भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष !

पीटी उषा को भारतीय ओलंपिक संघ की कमान सौंपी जा सकती है. जानकारी के मुताबिक़ भारत की इस महान एथलीट को निर्विरोध चुना जा सकता है. अगर ऐसा हुआ तो इस पद पर पहुँचने वाली वह पहली महिला होंगी. बता दें कि दस दिसंबर को भारतीय ओलम्पिक संघ का अध्यक्ष चुना जाना है और उषा इस पद के के लिए अकेली उम्मीदवार है.

पीटी ऊषा के नाम एशियाई खेलों में चार स्वर्ण और सात रजत पदक हैं. वह 1982, 1986, 1990 और 1994 एशियाई खेलों में पदक जीती थीं. इसके अलावा उनके नाम एशियाई चैंपियनशिप में 14 स्वर्ण, छह रजत और तीन कांस्य पदक हैं. 58 साल की पीटी ऊषा 1984 ओलंपिक में 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में चौथे स्थान पर रही थीं.

 

पीटी ऊषा ने रविवार को अध्यक्ष पद के लिए अपना नामंकन पत्र दाखिल किया. उनके साथ-साथ 14 अन्य लोगों ने अलगअ-अलग पदों के लिए नामांकन दाखिल किया. आज नामांकन पत्र दाखिल करने की समय सीमा रविवार को समाप्त हो गई. शुक्रवार और शनिवार को आईओए के चुनाव अधिकारी उमेश सिन्हा को कोई नामांकन नहीं मिला. वहीं, रविवार को 24 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किए.

आईओए के चुनाव में उपाध्यक्ष (महिला) और संयुक्त सचिव (महिला) के पद के लिए मुकाबला होगा. कार्यकारिणी परिषद के चार सदस्यों के लिए 12 प्रत्याशियों ने अपना नामांकन भरा है. आईओए में एक अध्यक्ष, एक वरिष्ठ उपाध्यक्ष, दो उपाध्यक्ष (एक पुरुष और एक महिला), एक कोषाध्यक्ष, दो संयुक्त सचिव (एक पुरुष और एक महिला), छह अन्य कार्यकारी परिषद सदस्यों के चुनाव के लिए होंगे. इनमें से दो (एक पुरुष और एक महिला) निर्वाचित ‘एसओएम’ से होंगे. कार्यकारी परिषद के दो सदस्य (एक पुरुष और एक महिला) एथलीट आयोग के प्रतिनिधि होंगे.

Previous article 50 करोड़ लोगों के व्हाट्सएप नंबर लीक होने का डर
Next article सावरकर पर राहुल की टिप्पणी पर भड़के राज ठाकरे, बोले यू इडियट, आपकी हैसियत नहीं 
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here