Monday, December 11, 2023
होमताज़ातरीनपीएम मोदी तैयार करेंगे नई टीम

पीएम मोदी तैयार करेंगे नई टीम

अखिलेश अखिल

अगर सब कुछ निर्धारित रणनीति के तहत चला तो आगामी 18 से 25 जनवरी के बीच मोदी मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल हो सकता है, जिसमे कई नेताओं की हैसियत बढ़ेगी तो कई मंत्रियों की छुट्टी होगी. पीएमओ और बीजेपी में जिस तरह बैठकों का दौर चल रहा है, और उन बैठकों से जो संकेत मिल रहे है, उससे यही कहा जा सकता है कि कैबिनेट में बड़े स्तर पर फेरबदल की तैयारी चल रही है. इस फेर बदल में कई मंत्रियों को प्रमोट किया जाएगा, जबकि दर्जन भर से ज्यादा मंत्रियों की छुट्टी कर संगठन के काम में लगाया जाएगा.

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक आरके सिंह, धर्मेंद्र प्रधान,अनुराग ठाकुर और भूपेंद्र यादव को अहम जिम्मेदारी दी जा सकती है. कुछ नए चेहरे मंत्रिमंडल में शामिल किए जा सकते हैं. गुजरात, कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश के साथ ही बिहार और महाराष्ट्र से भी कुछ लोगों को कैबिनेट में शामिल करने की तैयारी हो रही है. खबर ये भी है कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ से भी नए चेहरे शामिल किए जा सकते है.

दरअसल पीएम मोदी और अमित शाह चाहते हैं कि टीम ऐसी बने, जो दस राज्यों के चुनाव के साथ ही लोकसभा चुनाव में भी पार्टी की जीत सुनिश्चित कर सके. गुजरात के मुख्य रणनीतिकार सी.आर पाटिल को भी बड़ी जिम्मेदारी देने की बात हो रही है. गुजरात में सी. आर पाटिल ने चुनाव जीतने में जो रणनीति अपनाई थी, उसकी काफी प्रशंसा पीएम कर चुके हैं. इनके नाम की चर्चा संभावित अगले अध्यक्ष के रूप में भी की जा रही है.

मौजूदा पार्टी अध्यक्ष के पी नड्डा का कार्यकाल इसी महीने के 23 तारीख को खत्म हो जाएगा. नड्डा की सेवा को आगे बढ़ाया जाएगा या फिर नया चेहरा लाया जाएगा इस पर भी मंथन किया जा रहा है. अध्यक्ष की रेस में भूपेंद्र यादव का नाम भी शामिल है.

बीजेपी को कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा से भी परेशानी हो रही है. पार्टी की समझ है कि जिस तरह से राहुल गांधी को भारत जोड़ो यात्रा को समर्थन मिल रहा है. इसके प्रभाव अगर चीन पर पड़ते हैं तो बीजेपी को परेशानी होगी. ऐसे में संगठन की चुस्त करने के लिए अब पार्टी की तैयारी सांसदों और मंत्रियों को जनता के बीच भेजने की भी है.

आम चुनाव की तैयारियों में जुटी बीजेपी 20 जनवरी से उन 436 लोकसभा सीटों पर केंद्रीय मंत्रियों की तैनाती करेगी, जहां वह पिछला चुनाव लड़ी थी. मंत्री वहां रोटेशन आधार पर तीन दिन रुकेंगे और वहां रह कर केंद्रीय योजनाओं की समीक्षा करेंगे. सूत्रों का कहना है कि हर मंत्री के जिम्मे 7-8 सीटें होंगी. उन्हें केंद्र की कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन और उसके असर की जानकारी जुटाकर रिपोर्ट बनानी होगी.

इस साल कर्नाटक, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मेघालय, नगालैंड, मिजोरम, त्रिपुरा में चुनाव हैं. जम्मू-कश्मीर में भी उम्मीद है. पार्टी के सामने इनमें से 6 राज्यों में सरकार बचाने की चुनौती है. ऐसे में मंत्रिमंडल में वहां के नेताओं को प्रतिनिधित्व देने पर जोर रहेगा. सरकार की ओर से साफ संकेत हैं कि नॉन परफाॅर्मिंग मंत्रियों को ड्रीम टीम में स्थान नहीं मिलेगा.

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments