Friday, June 2, 2023
होमताज़ातरीननेपाल ने बाबा रामदेव की कंपनी समेत 16 भारतीय दवा कंपनियों पर...

नेपाल ने बाबा रामदेव की कंपनी समेत 16 भारतीय दवा कंपनियों पर लगाया प्रतिबंध

पड़ोसी देश नेपाल के ड्रग नियामक ने योग गुरु से बिजनेसमैन बने बाबा रामदेव की कंपनी दिव्य फार्मेसी समेत 16 भारतीय दवा कंपनियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़, नियामक ने कहा है कि ये कंपनियां विश्व स्वास्थ्य संगठन के उत्पादन स्टैंडर्ड का पालन करने में नाकाम रहीं हैं.

डिपार्टमेंट ऑफ ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने 18 दिसंबर को एक नोटिस जारी कर नेपाल के लोकल एजेंट, जो कि ये दवाइयां सप्लाई करते हैं, उन्हें तुरंत प्रभाव से वापस लेने के लिए कहा है. नोटिस के मुताबिक इन दवाइयों का नेपाल में आयात और वितरण नहीं किया जा सकता.

विभाग के अधिकारियों के अनुसार, उन कंपनियों की सूची जो डब्ल्यूएचओ के मानकों का पालन नहीं करती हैं, उन दवा कंपनियों की विनिर्माण सुविधाओं के निरीक्षण के बाद इन्हें ब्लैक लिस्ट किया गया, जिन्होंने अपने उत्पादों को नेपाल में निर्यात करने के लिए आवेदन किया था.

बता दें कि अप्रैल और जुलाई में डिपार्टमेंट ने अपने ड्रग इन्स्पेक्टरों की एक टीम को दवा कंपनियों को फ़ैक्ट्रियों में भेजा था.

दिव्य फार्मेसी के अलावा, इस सूची में रेडियंट पैरेन्टेरल्स लिमिटेड, मरकरी लेबोरेटरीज़ लिमिटेड, एलायंस बायोटेक, कैपटैब बायोटेक, एग्लोमेड लिमिटेड, जी लेबोरेटरीज़, डैफोडिल्स फार्मास्युटिकल्स, जीएलएस फार्मा, यूनिजूल्स लाइफ साइंस, कॉन्सेप्ट फार्मास्यूटिकल्स, श्री आनंद लाइफ साइंसेज़, आईपीसीए लैबोरेटरी, कैडिला हेल्थकेयर, डायल फार्मास्यूटिकल्स और मैकुर लैबोरेटरी शामिल हैं.

Anzarul Bari
Anzarul Bari
पिछले 23 सालों से डेडीकेटेड पत्रकार अंज़रुल बारी की पहचान प्रिंट, टीवी और डिजिटल मीडिया में एक खास चेहरे के तौर पर रही है. अंज़रुल बारी को देश के एक बेहतरीन और सुलझे एंकर, प्रोड्यूसर और रिपोर्टर के तौर पर जाना जाता है. इन्हें लंबे समय तक संसदीय कार्रवाइयों की रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव है. कई भाषाओं के माहिर अंज़रुल बारी टीवी पत्रकारिता से पहले ऑल इंडिया रेडियो, अलग अलग अखबारों और मैग्ज़ीन से जुड़े रहे हैं. इन्हें अपने 23 साला पत्रकारिता के दौर में विदेशी न्यूज़ एजेंसियों के लिए भी काम करने का अच्छा अनुभव है. देश के पहले प्राइवेट न्यूज़ चैनल जैन टीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर शो 'मुसलमान कल आज और कल' को इन्होंने बुलंदियों तक पहुंचाया, टीवी पत्रकारिता के दौर में इन्होंने देश की डिप्राइव्ड समाज को आगे लाने के लिए 'किसान की आवाज़', वॉइस ऑफ क्रिश्चियनिटी' और 'दलित आवाज़', जैसे चर्चित शोज़ को प्रोड्यूस कराया है. ईटीवी पर प्रसारित होने वाले मशहूर राजनीतिक शो 'सेंट्रल हॉल' के भी प्रोड्यूस रह चुके अंज़रुल बारी की कई स्टोरीज़ ने अपनी अलग छाप छोड़ी है. राजनीतिक हल्के में अच्छी पकड़ रखने वाले अंज़र सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और अंतरराष्ट्रीय खबरों पर अच्छी पकड़ रखते हैं साथ ही अपने बेबाक कलम और जबान से सदा बहस का मौज़ू रहे है. डी.डी उर्दू चैनल के शुरू होने के बाद फिल्मी हस्तियों के इंटरव्यूज़ पर आधारित स्पेशल शो 'फिल्म की ज़बान उर्दू की तरह' से उन्होंने खूब नाम कमाया. सामाजिक हल्के में अपनी एक अलग पहचान रखने वाले अंज़रुल बारी 'इंडो मिडिल ईस्ट कल्चरल फ़ोरम' नामी मशहूर संस्था के संस्थापक महासचिव भी हैं.
RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

Recent Comments